भारत और वेस्‍टइंडीज के बीच पांच वनडे मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला विशाखापट्टनम में खेला जा रहा है
Please Share the Post

भारत और वेस्‍टइंडीज के बीच पांच वनडे मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला आज यहां विशाखापट्टनम में खेला जा रहा है. विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम ने पहला वनडे 8 विकेट के बड़े अंतर से जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है. इस मैच में भारतीय टीम ने 300 रन से अधिक का स्‍कोर जितनी आसानी से चेज किया था, उसने निश्चित ही वेस्‍टइंडीज टीम के खेमे की चिंता बढ़ा दी है. मैच में विराट कोहली और रोहित शर्मा ने धमाकेदार शतकीय पारी खेली थीं. वर्ल्‍डकप-2019 की तैयारियों में जुटी भारतीय टीम की कोशिश इस मैच में अपनी जीत के लय को बरकरार रखने की होगी. भारतीय कप्तान विराट कोहली अगर 81 रन बना लेते हैं तो सचिन तेंदुलकर को पछाड़कर इस प्रारूप में सबसे तेज 10000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाज बन जाएंगे. इस रिकॉर्ड की संभावना ने दर्शकों में इस मैच को लेकर अतिरिक्त उत्साह भर दिया है. मैच में भारतीय टीम के कप्‍तान विराट कोहली ने टॉस जीता और पहले बल्‍लेबाजी का फैसला किया. गुवाहाटी में विराट और रोहित ने भारत को 47 गेंद बाकी रहते जीत दिलाकर वेस्टइंडीज का रहा-सहा मनोबल भी तोड़ दिया. शीर्षक्रम के बल्लेबाजों के फार्म के चलते मध्यक्रम को कुछ करने की जरूरत ही नहीं पड़ी. वर्ल्‍डकप से पहले अहम मानी जा रही इस सीरीज में हालांकि मध्यक्रम को भी आजमाये जाने की जरूरत है. भारत को हालांकि वायएस राजशेखर रेड्डी एसीए वीडीसीए स्टेडियम पर अपने गेंदबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी. कोहली को पता है कि गेंदबाजी पिछले मैच में कमजोर कड़ी रही थी. डेथ ओवरों के विशेषज्ञ जसप्रीत बुमराह और भरोसेमंद भुवनेश्वर कुमार की गैरमौजूदगी में भारतीय गेंदबाज बारसापारा स्टेडियम पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके थे. रवींद्र जडेजा भी लय में नहीं थे जिससे कैरेबियाई बल्लेबाजों ने बड़ा स्कोर बना डाला. मोहम्मद शमी ने 10 ओवरों में 81 रन दिए. इसके बावजूद विकल्प नहीं होने के कारण कोहली को उन्हें ही उतारना होगा. वेस्‍टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट में दस विकेट लेने वाले उमेश यादव भी उस फॉर्म को दोहरा नहीं सके और महंगे साबित हुए. वर्ल्‍डकप में अब एक साल से भी कम रह गया है लिहाजा टीम प्रबंधन तेज गेंदबाजों का पूल तैयार करना चाहता होगा. ऐसे में उमेश को और मौके दिये जा सकते हैं. पहले मैच में बाहर रहे चाइनामैन कुलदीप यादव को खलील अहमद की जगह उतारा जा सकता है. वेस्टइंडीज की टीम शिमरोन हेटमेयर से पिछले प्रदर्शन के दोहराव की उम्मीद कर रही होगी जिसने 78 गेंद में 106 रन बनाए. मर्लोन सैमुअल्स भी टीम का हिस्सा हैं लेकिन पहले मैच में जल्दी आउट हो गए थे. एशिया कप में शानदार फॉर्म में रहे शिखर धवन ने यहां दिसंबर 2017 में श्रीलंका के खिलाफ शतक बनाया था. कैरेबियाई टीम में तेज गेंदबाज केमार रोच की वापसी हुई है जो परिवार में निधन के कारण टेस्ट सीरीज नहीं खेल सके थे.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *