मवेशी चराने जा रहे ग्रामीण की हत्या
Please Share the Post

मृतक की सर और पैर को धड़ से अलग किया  गांव के स्कूली बच्चों और शिक्षक पर भी किया था हमला, भाग कर बचाई थी जान

सिरफिरे युवक ने मवेशी चराने जा रहे ग्रामीण की टंगिया मारकर निर्मम हत्या कर दी। आरोपी ने ग्रामीण के ऊपर टांगी से वार करते हुए उसके सर और एक पैर के टखने को शरीर से अलग कर दिया था। आरोपी युवक ग्रामीण की हत्या करने के पूर्व प्राथमिक शाला में घुसकर एक शिक्षक के ऊपर भी हमला करने का प्रयास किया था। आरोपी के हत्या कर दिए जाने के बाद जब पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर अस्पताल पंहुची तो आरोपी की भी मौत हो गई। मामला बगीचा थाना क्षेत्र के ग्राम सरडीह की है। घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार बगीचा थाना क्षेत्र के ग्राम सरडीह में एक सिरफिरे आरोपी ने पूरे गांव में दहशत फैलाते हुए मवेशी चराने के लिए जा रहे ग्रामीण की टांगी से वार कर निर्मम हत्या कर दी। आरोपी ने ग्रामीण के उपर इतनी बेरहमी से वार किया कि मृतक कमल का सिर व पैर कटकर अलग हो गया था। बुधवार की सुबह 10 बजे के आसपास आरोपी भीमराम गांव के स्कूल में पंहुच गया और वहां उपस्थित शिक्षक सहदेव साय पैंकरा के ऊपर भार ढोने वाले बहिंगा से जानलेवा हमला कर दिया था। जिसके बाद शिक्षक ने उससे किसी तरह बचते हुए उसे पकड़ लिया था और स्कूल के अन्य शिक्षक बच्चों को लेकर पहाड़ी की ओर चले गए थे। शिक्षक तो किसी तरह आरोपी से अपनी जान बचाकर वहां से भाग गया। जिसके बाद आरोपी भीम राम टांगी लेकर स्कूल के आसपास ही घूम रहा था। उसी दौरान गांव का ग्रामीण कमल अपने मवेशियों को चराने के लिए जा रहा था जिसका सामना आरोपी भीम राम से हो गया। भीम राम ने अपने सामने मृतक कमल को देखते ही कुल्हाड़ी लेकर उसकी ओर दौड़ा और उसपर कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ हमला करना शुरु कर दिया। आरोपी ने मृतक कमल राम के ऊपर इतनी निर्दयता से वार किया कि उसका सर धड़ से अलग हो गया था और एक पैर टखने के पास से कट कर अलग हो गया था।
शिक्षक और स्कूली छात्र छिपे रहे पहाड़ी के पीछे- आरोपी युवक सबसे पहले सरडीह के प्राथमिक शाला में घुसा था और वहां के एक शिक्षक पर हमला करने का प्रयास किया था। शिक्षक ने उससे किसी तरह बचते हुए अन्य शिक्षको और छात्रों को पहाड़ी के पीछे भेज दिया था। बच्चों और शिक्षको को स्कूल से भेजने के बाद शिक्षक भी आरोपी से अपनी जान बचाते हुए पहाड़ी की ओर चला गया था।
ग्रामीणों ने आरोपी को किया काबू में- बताया जाता है कि आरोपी युवक नशे का आदी था और पिछले कुछ दिनों से विक्षिप्त की तरह गांव में घूमता रहता था और लोगों को मारने के लिए भी दौड़ता था। आरोपी का मृतक कमल से आमना सामना हो जाने और उसके उपर वार करते हुए गांव का एक अन्य ग्रामीण ने उसे देख लिया। ग्रामीण ने फोन से तत्काल इसकी सूचना आरोपी के परिजनों को दे दी थी। परिजनों को सूचना मिलती ही उसके परिजनों के साथ-साथ अन्य ग्रामीण भी मौके पर पंहुच गए और कड़ी मशक्कत के बाद आरोपी युवक को काबू में करते हुए उसे एक रस्सी से बांध कर पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पंहुच कर आरोपी को अपने हिरासत में लिया था।

अस्पताल में आरोपी की हुई मौत- घटना के बाद ग्रामीणों ने आरोपी को अपने काबू में लेकर उसे एक रस्सी से बांध दिया था और पुलिस को सूचना दे दी थी। सूचना पर पंहुची पुलिस ने आरोपी को अपने हिरासत में ले लिया था। उस दौरान आरोपी की स्थिति नाजूक दिखने पर उसे तत्काल उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां आरोपी की भी मौत हो गई।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *