बसपा प्रत्याशी ने ग्राम पंचायत भवन को पुतवा दिया पार्टी कलर में, विरोधियों ने दबी जुबां से उठाई आवाज
Please Share the Post

ग्राम पंचायत कोसमंदा के सरपंच गौतम राठौर को बसपा-जकांछ गठबंधन ने सक्ती विधानसभा के प्रत्याशी बनाया है। उन पर विपक्ष के लोगों ने आरोप लगाया है कि परपंच ने बसपा-जकांछ की जब गठबंधन हुई तब ग्राम पंचायत भवन को पार्टी के कलर में पुतवा दिया है। भवन के उपरी हिस्से में गाढ़े नीले कलर का रूप दिया गया है तो वहीं दीवार के बीच वाले हिस्से को जकांछ पार्टी कलर यानी गुलाबी कलर में पुतवा दिया है। जबकि सरपंच का कहना है कि ग्राम पंचायत भवन की पुताई काफी पहले हो चुकी है। वहीं विपक्षियों का कहना है कि हाल ही में भवन की पुताई कराई गई है। फिलहाल विरोध करने ग्रामीण खुलकर सामने नहीं आ रहे हैं।
पार्टी के प्रति अंधश्रद्धाभक्ति की मिसाल लोगों ने आज तक बहुत देखी होगी लेकिन कोसमंदा सरपंच के जुनून ने आचार संहिता के नियमों को तार-तार कर दिया है। बताया जा रहा है कि कोसमंदा सरपंच ने हाल ही में ग्राम पंचायत बिल्डिंग को पार्टी के कलर में पुताई करा दी है। ऐसा तब किया गया जब बहुजन समाज पार्टी व छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस का चुनावी गठबंधन हुआ है। सरपंच ने शासन के नियमों को दरकिनार कर ग्राम पंचायत भवन को बसपा छकांज के पार्टी कलर में पुतवा दिया है। इससे ग्राम पंचायत के ग्रामीणों ने आपत्ति दर्ज की है। कुछ दिनों पहले ग्राम पंचायत भवन शासन के मानक के अनुरूप कलर यानी पीले रंग में पुता हुआ था। जिसे सरपंच के द्वारा गाढ़ा नीला और गुलाबी रंग में पुतवा दिया है।
सरपंच ने कहा सजा भुगतने तैयार हूं
कोसमंदा सरपंच व बसपा जकांछ प्रत्याशी गौतम राठौर का कहना है कि मेरी भावना ऐसी नहीं है। पंचायत भवन का रंग रोगन काफी दिनों पहले किया गया था। मुझे पार्टी ने प्रत्याशी अभी बनाया है। विरोधी मेरी कार्यशैली को लेकर हमेशा सवाल खड़े करते हैं। विरोधी आरोप लगाएंगे ही। मेरे गांव में कई विरोधी हैं। दिमागी रूप से परेशान करने के लिए ऐसा किया जा रहा है। मेरी गलती है तो आरोप सिद्ध करिए मैं सजा भुगतने तैयार हूं।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *