72 साल की मां ने किडनी देकर बचाई बेटे की जान
Please Share the Post

कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले में एक मां ने अपने बेटे को दोबारा जन्म दिया। 72 साल की बुजुर्ग मां ने बढ़ती उम्र की चिंताओं को दरकिनार करते हुए अपने 42 साल के बेटे को एक किडनी डोनेट कर उसकी जिंदगी
बचा ली।
चित्रदुर्ग जिले के हिरियूर निवासी भद्रकलम्मा (72) पूरी तरह स्वस्थ हैं और उनकी दोनों किडनी अच्छे से काम कर रही है। उनके बेटे सत्यनारायणाचारी एचएल को किडनी की समस्या हो गई और डॉक्टर्स ने किडनी ट्रांसप्लांट की बात कही। उनकी पत्नी का ब्लड ग्रुप मैच नहीं करने की वजह से मां सामने आईं और बेटे की जिंदगी की खातिर अपनी जिंदगी को दांव पर लगाने का फैसला किया।
सामान्य तौर पर 65 की उम्र से ऊपर के लोगों को डोनर्स नहीं समझा जाता है, लेकिन मां ने अपनी जिंदगी को रिस्क पर लगाते हुए किडनी को डोनेट करने का फैसला किया। अप्रैल महीने में बेंगलुरु के कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल में मां-बेटे लंबे समय तक ऑब्जर्वेशन में रहे और रुटीन हेल्थ चेकअप
कराते रहे।
सत्यनारायणाचारी ने स्वस्थ होने के बाद कहा, ‘पिछले दो सालों से मैं ठीक से काम कर नहीं कर पा रहा था और इस वजह से मेरा परिवार भी आर्थिक तौर पर कमजोर हो गया था। जिंदगी से मेरी रुचि ही खत्म हो गई थी। डॉक्टर ने किडनी ट्रांसप्लांट की सलाह दी। मेरी मां ने मुझे दोबारा से जिंदगी दे दी।’ वहीं मां भद्रकलम्मा ने कहा, ‘मैं और मेरा बेटा दोनों ही एक फंक्शनल किडनी के सहारे जी रहे हैं। हम अब स्वस्थ हैं। मैं एक एक्सट्रा किडनी लेकर क्या करती, जब मेरा बेटा बीमार था और उसे किडनी की जरूरत थी।’

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *