अमृतसर ग्रेनेड अटैक: पुलिस ने जताई आतंकी हमले की आशंका, जांच जारी
Please Share the Post

अमृतसर के एक धार्मिक डेरे में हुए ग्रेनेड अटैक को लेकर पंजाब पुलिस का कहना है कि यह आतंकवादी हमला हो सकता है। पंजाब पुलिस के डीजीपी सुरेश अरोड़ा ने कहा, इस घटना में आतंकी ऐंगल मालूम पड़ता है। इसकी वजह यह है कि अटैक किसी व्यक्ति पर न होकर एक समूह पर हुआ है। लोगों के एक समूह पर ग्रेनेड से हमला करने का कोई कारण नहीं बनता है। इसलिए हम इस घटना को आतंकी हमले के ऐंगल से देख रहे हैं। हालांकि जांच के बाद ही सच्चाई पता चलेगी, लेकिन पहली नजर में हम इसे आतंकी हमले के तौर पर ही देख रहे हैं।
टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक इस हमले को बाइक सवार हमलावरों ने अंजाम दिया था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हमलावरों ने चेहरे ढके हुए थे और बाइक की नंबर प्लेट पर कोई नंबर नहीं था। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने हमले में शामिल दो संदिग्धों को अरेस्ट कर लिया है।
पंजाब: धार्मिक डेरे पर ग्रेनेड अटैक, 3 की मौत
पंजाब पुलिस के पास पहले से कोई खुफिया सूचना जानकारी होने को लेकर अरोड़ा ने कहा कि किसी भी संभावित खतरे को लेकर कोई इनपुट नहीं था। निरंकारी समाज को लेकर किसी भी तरह का मुद्दा नहीं था और न ही ऐसा कोई इनपुट पुलिस के पास था। अमृतसर के बाहरी इलाके में स्थित निरंकारी डेरे पर रविवार को हुए ग्रेनेड अटैक में 3 लोगों को मौत हो गई है, जबकि 10 लोग घायल हुए हैं।
पुलिस ने बताया कि यह हमला अमृतसर के राजासांसी इलाके के आदलीवाल गांव में हुआ। यह इलाका अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के करीब ही स्थित है। यह हमला जिस वक्त हुआ, तब परिसर में निरंकारी समूह के लोगों का धार्मिक कार्यक्रम चल रहा था। घटनास्थल का दौरा करने वाले पंजाब पुलिस के आईजी एस.एस. परमार ने कहा, एक ग्रेनेड फेंका गया था। इस हमले में तीन लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 10 लोग घायल हो गए थे। घायलों में दो की हालत गंभीर है।
महिला पर पिस्तौल तान निरंकारी भवन में घुसे थे हमलावर
हमले में सभी पीडि़त आसपास के गांवों के निरंकारी अनुयायी हैं, जो रविवार को साप्ताहिक धार्मिक सभा के लिए जुटे थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि चेहरा ढककर मोटरसाइकिल से आए दो युवक गेट पर मौजूद एक महिला पर पिस्तौल तानकर जबरन निरंकारी भवन के परिसर में घुस गए। एक शख्स ने पुलिस को बताया, सबकुछ महज कुछ मिनटों में ही हो गया। वे घुसे, ग्रेनेड फेंके और फरार हो गए।
जाकिर मूसा के पोस्टर से भी गहराईं आशंकाएं
जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ पंजाब पुलिस ने हाल ही में पंजाब के संस्थानों में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों के दो गिरोहों का पर्दाफाश किया था, जिनके संबंध कश्मीरी आतंकवादी संगठनों से थे। पंजाब के गुरदासपुर जिले में कश्मीरी आतंकवादी जाकिर मूसा का पोस्टर शुक्रवार को रहस्यमय तरीके से सामने आया, जिसके बारे में कहा गया कि वह पंजाब में देखा गया था। देश-विदेश में निरंकारी अनुयायियों की संख्या लाखों में है। इसका मुख्यालय दिल्ली में है।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *