बांग्लादेश ने पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में वेस्टइंडीज को 64 रन से हराकर दो मैचों की सीरीज में शुरुआती बढ़त हासिल की
Please Share the Post

बांग्लादेश ने शनिवार को यहां पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में वेस्टइंडीज को तीसरे दिन ही 64 रन से हराकर दो मैचों की सीरीज में शुरुआती बढ़त हासिल की. वेस्टइंडीज के सामने जीत के लिए 204 रन का लक्ष्य था, लेकिन उसकी टीम 139 रन पर आउट हो गई. ताइजुल इस्लाम ने 33 रन देकर छह विकेट लिए. उनके अलावा कप्तान शाकिब अल हसन और मेहदी हसन ने भी दो-दो विकेट हासिल किए. शाकिब ने इस बीच टेस्ट क्रिकेट में 200 विकेट भी पूरे किए. बांग्लादेश की पहली पारी के शतकवीर मोमिनुल हक को मैन ऑफ द मैच चुना गया. बांग्लादेश ने सुबह अपनी दूसरी पारी पांच विकेट पर 55 रन से आगे बढ़ाई, लेकिन उसकी पूरी टीम 125 रन पर आउट हो गई. महमुदुल्लाह ने सर्वाधिक 31 रन बनाए. लेग स्पिनर देवेंद्र बिशू (26 रन देकर चार), ऑफ स्पिनर रोस्टन चेज (18 रन देकर तीन) और बाएं हत्था स्पिनर जोमेल वारिकन (43 रन देकर दो) को मिली सफलता से साफ हो गया था कि विकेट स्पिन ले रहा है और वेस्टइंडीज के लिए खासी मुश्किलें आएंगी. फिर भी सभी उम्मीद कर रहे थे कि विंडीज टीम मिले 204 के लक्ष्य का अच्छा जवाब देगी. वेस्टइंडीज की शुरुआत खराब रही और इससे वह आखिर तक नहीं उभर पाया. उसकी शुरुआत सिर मुड़ाते ही ओले पड़ने जैसी रही. सुनील अंब्रीस के 43 और शिमोर हेटमायर के 27 रन और दसवें नंबर के बल्लेबाज वारिकन ने 41 रन को छोड़ दें, तो निचले क्रम की हालत भी ऊपरी बल्लेबाजों जैसी ही रही. आयाराम-गयाराम! लेकिन सबसे बड़ा नुकसान उठाना पड़ा उसे शुरुआत के कारण. विंडीज के शुरुआती चार बल्लेबाज सिर्फ 11 रन पर पवेलियन लौट गए. क्रेग ब्रैथवेट (8), केरोन पावेल (0), शाई होप (3) और रोस्टन चेज (0) दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके. और इस खराब शुरुआत के सदमे से ही विंडीज आखिर तक नहीं ऊपर सका. और इसी ने उसे हार के मुंह में धकेलते हुए बांग्लादेश ने इतिहास रच दिया. बांग्लादेश की अपनी धरती पर विंडीज के खिलाफ यह पहली जीत रही. दोनों टीमों के बीच दूसरा और अंतिम टेस्ट मैच 30 नवंबर से ढाका में खेला जाएगा.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *