राजस्थान में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पहले चुनावी कार्यक्रम में कारोबारियों को संबोधित किया और मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला
Please Share the Post

राजस्थान में आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के कई चुनावी कार्यक्रम हैं. राहुल गांधी ने अपने पहले चुनावी कार्यक्रम में उदयपुर में कारोबारियों को संबोधित किया और मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. सर्जिकल स्ट्राइक से लेकर सेना के क्षेत्र में मोदी सरकार की दखलअंदाजी पर राहुल गांधी ने जमकर हमला बोला. राहुल गांधी ने पीएम मोदी के हिंदुत्व के ज्ञान पर भी सवाल उठाए. दरअसल, राहुल गांधी ने उदयपुर में कारोबारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदू धर्म का सार क्या है? गीता में क्या गया है? ज्ञान हर जगह है, ज्ञान आपके हर तरफ है. हर कोई जिसमें जान है, उसके पास ज्ञान है. हमारे पीएम कहते हैं कि वह हिंदू हैं, लेकिन हिंदू धर्म का मतलब नहीं समझते हैं. वो किस तरह के हिंदू हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि पीएम को लगता है कि सैन्य क्षेत्र में वह सेना से ज्यादा जानकारी रखते हैं, विदेश मंत्री से ज्यादा विदेश मंत्रालय को जानते हैं. उन्हें लगता है कि वह कषि मंत्री से ज्यादा कृषि क्षेत्र के बारे में जानते हैं. उन्हें लगता है कि सारी जानकारी उनके दिमाग से ही आती है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी आर्मी के कार्यक्षेत्र में घुसे और सर्जिकल स्ट्राइक को आकार दिया. उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को पॉलिटिकल एसेट बना दिया, जबकि यह आर्मी का निर्णय था. आगे उन्होंने कहा कि ‘क्या आपको पता है कि नरेंद्र मोदी के सर्जिकल स्ट्राइक की तरह मनमोहन सिंह ने भी 3 बार सर्जिकल स्ट्राइक की थी? जब सेना मनमोहन सिंह के पास आई और कहा कि हमें पाकिस्तान को उसकी हरकत के लिए जवाब देना होगा, साथ ही उन्होंने कहा कि इसे से सीक्रेट रखना होगा. ‘देश में शिक्षण संस्थानों की हालत पर राहुल गांधी ने कहा कि यह काल्पनिक बात है कि प्राइवेट सेक्टर के शिक्षण संस्थान बेहतर हैं. हमारा साफ मानना है कि सरकारी संस्थानों और हेल्थकेयर के बिना हम देश को नहीं चला सकते हैं. हिंदुस्तान के सबसे बेहतर शिक्षा संस्थान सरकारी हैं. कारोबारियों से कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर हिंदुस्तान में 10-15 साल सही सरकार आई तो हम चीन को पछाड़ देंगे. उन्होंने आगे कहा कि युवाओं के लिए रोजगार सृजन के मामले में पूरी तरह विफल रहे हैं पीएम मोदी. संप्रग सरकार के समय एनपीए दो लाख करोड़ रुपए था ,मोदी सरकार के चार साल में एनपीए 12 लाख करोड़ रुपए हो गयानोटबंदी और जीएसटी के बारे में हिन्दुस्तान की जनता भ्रमित है.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *