यूनिसेफ द्वारा युवाओं के लिए विशेष कार्यशाला सम्पन्न
Please Share the Post

रायगढ़ से तीन कार्यक्रम अधिकारी हुए शामिल

बाल अधिकारों के सरंक्षण में राष्ट्रीय सेवा योजना की भूमिका के लिए प्रशिक्षकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम” के तहत कमला नेहरु महाविद्यालय कोरबा में 6 एवं 7 दिसंबर 2018 को दो दिवसीय विशेष कार्यशाला का आयोजन यूनिसेफ(यूनाइटेड नेशंस इंटरनेशनल चाइल्ड इमरजेंसी फण्ड) के सहयोग से छत्तीसगढ़ शासन एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के संयुक्त संयोजन मैं संपन्न हुआ । विशेष कार्यशाला में रायगढ़ जिला से जिला संगठक डॉ.सुशील कुमार एक्का, तारापुर के कार्यक्रम अधिकारी भोजराम पटेल एवं वीरेंद्र चक्रधारी (बटमुल महाविद्यालय साल्हेवोना) ने शामिल होकर कार्यशाला में सहभागिता दर्शाई वहीं छत्तीसगढ़ प्रदेश के अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय बिलासपुर से लगभग अस्सी कार्यक्रम अधिकारी शामिल हुए । दो दिवसीय कार्यशाला के दौरान बाल अधिकार एवं युवा चेतना के लिए कार्यरत संस्था प्रवाह नई दिल्ली से अजय पंडित तथा सुुश्री मेधा अंसारी जी ने रासेयो कार्यक्रम अधिकारियों को अत्यंत ही सहज ढंग से विभिन्न विषयों पर व्यवहारिक अनुभवों के द्वारा युवा मानसिकता को अध्ययन करने तथा वर्तमान में युवाओं को रचनात्मक दिशा देने के लिए खेल खेल में प्रशिक्षण कार्यक्रम को संपादित किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रदेश प्रभारी पदेन उपसचिव डॉ. समरेंद्र सिंह के दिशा निर्देश में बिलासपुर विश्वविद्यालय बिलासपुर के समन्वयक डॉ.मनोज सिन्हा के नेतृत्व में कोरबा जिला संगठक वाई.के.तिवारी एवं जांजगीर-चांपा जिला के जिला संगठक बी.के.पटेल, मुंगेली से डॉ. चंद्रशेखर सिंह, डॉ. शिवदयाल पटेल सहित प्रदेश भर के कार्यक्रम अधिकारियों की विशेष भागीदारी में कार्यशाला संपन्न हुआ । कार्यशाला में विविध सत्रों के माध्यम से अलग अलग तरीके से कार्यक्रम अधिकारियों को युवाओं के सर्वांगीण विकास हेतु जमीनी स्तर पर किये जाने वाले कार्यो से अवगत कराया गया तथा युवाओं से जुड़कर उन्हें देश और समाज हित में काम करने के लिए तैयार करने की योजना भी बताई गई।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *