नकली चेक देकर बर्तन व्यापारी से ठगी, धोखाधड़ी का मामला दर्ज
Please Share the Post

लोन पास होने के नाम पर एक लाख का फर्जी बैंकर्स चेक देकर बर्तन दुकान वाले को फटका दे दिया और दस हजार के बर्तन ले गया। चेक दुकानदार द्वारा बैंक में लगाये जाने पर पता चला कि चैक फर्जी है। दुकानदार की रिपोर्ट पर पुलिस ने धारा 420 का मामला पंजीबद्ध कर विवेचना शुरू कर दी है।
पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार विकास अग्रवाल पिता श्री दीन दयाल अग्रवाल Óयाति मेटल का संचालक है। 29 नवंबर को दोपहर लगभग 02:00 बजे एक व्यक्ति जो स्वयं को हीरासिंह पिता जगत बहादुर सिंह निवासी ग्राम माधोपाली तहसील सारंगढ का निवासी बता रहा था डभरा रोड स्थित Óयोति बर्तन दुकान में आया और एक लाख रूपये के बर्तन खरीदने की बात कहते हुए बर्तनों का कोटेशन की माँग किया । विकास द्वारा उसे कोटेशन लाकर दे दिया गया। 01 दिसंबर की शाम लगभग 05:00 बजे उक्त व्यक्ति पुन: दुकान में आया और सेन्ट्रल बैंक में लोन पास हुआ है कहते हुए सेन्ट्रल बैंक के लिफाफे से निकाल कर सप्लाई आदेश और Óयोति मेटल खरसिया के नाम का एक लाख रूपये का बैंकर्स चेक दिया और कहा कि आप मेरे बैंक में चेक को लगा लेना। जब आपको भुगतान प्राप्त हो जाये तो मैं उक्त रकम का बर्तन ले जाऊंगा अभी मुझे कुछ बर्तनों की आावश्यकता है वह आप दे दीजिये। बैंक के कागजात और चेक को देखकर विकास ने उसे दस हजार रूपये के बर्तन दे दिये। अगले दिन बैंक जाने पर बैंक के कर्मचारी के द्वारा विकास को मौखिक रूप से बताया गया कि यह चेक नकली है। तब उसे अपने ठगे जाने की जानकारी हुई और खरसिया चौकी पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने इस पर धारा 420 का मामला पंजीबद्ध कर विवेचना शुरू कर दी है।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *