बोर्ड परीक्षा 01 मार्च से : परीक्षार्थियों की संख्या बढ़ी, बोर्ड ने तय किए 61 नए परीक्षा केन्द्र
Please Share the Post

रायपुर। माध्यमिक शिक्षा मंडल अधिकारियों की हाल में संपन्न बैठक में इस बार नकल प्रकरण वाले परीक्षा केन्द्रों में परीक्षा न कराने तथा छात्रों की संख्या बढऩे के साथ ही नए परीक्षा केन्द्र बनाए जाने का निर्णय लिया गया है।
माशिमं सूत्रों की माने तो माशिमं अधिकारियों ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों की वीडियो क्रांफेंसिंग करके वर्तमान स्थिति का आंकलन किया। डीईओ द्वारा इस वर्ष अधिकांश स्कूलों मेंम 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं की संख्या बढऩे की जानकारी दी है। बताया जाता है कि परीक्षार्थियों की संख्या बढऩे की जानकारी मिलने के बाद माशिमं अधिकारियों ने छात्रों के मुकाबले परीक्षा केन्द्रों की जानकारी ली। समीक्षा में यह बात सामने आई कि इस वर्ष होने वाले बोर्ड परीक्षा में छात्रों की संख्या अधिक है और परीक्षा केन्द्रों की संख्या कम। वहीं परीक्षा में पूर्ण पारदर्शिता बनाए रखने के लिए माशिमं अधिकारियों ने इस बार नकल प्रकरण वाले परीक्षा केन्द्रों में परीक्षा आयोजित न करने का निर्णय लिया है। बैठक में बताया गया कि इस वर्ष 10वीं के 3 लाख 79 हजार 136 परीक्षार्थी नियमित के रूप में परीक्षा में शामिल होंगे। वहीं 7666 परीक्षार्थी प्राइवेट के होंगे। 12वीं में 2 लाख 51 हजार 555 परीक्षार्थी नियमित हैं जबकि प्राइवेट के लिए 9627 परीक्षार्थियों ने आवेदन किया है। 10वीं बोर्ड परीक्षा 01 मार्च से 23 मार्च के मध्य तथा 12वीं की परीक्षा 02 मार्च से 29 मार्च तक होना है। लिहाजा इस बार बोर्ड ने सभी तैयारियों की समीक्षा करनी शुरू कर दी है। बैठक में यह भी बताया गया कि गत वर्ष बोर्ड द्वारा 2158 परीक्षा केन्द्र बनाया गया था।

जबकि इस बार परीक्षार्थियों की संख्या बढऩे के कारण इस बार 2217 परीक्षा केन्द्र बनाया गया है।
डीके-11.50
०००

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *