ओवरलोड गाडिय़ां चलने के कारण सड़क हुई जर्जर
Please Share the Post

डस्ट से परेशान ग्रामवासी मोर्चा खोलने की तैयारी में

जिले के तमनार ब्लाक में इन दिनों रेलवे लाइन का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है। लेकिन यहां आने वाले ओवरलोड गाडिय़ों की वजह से आसपास के लोगों को काफी परेशानी हो रही है। बात करें तो कुंजेमुरा से औराईमुडा तक प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सड़क के निर्माण हुई थी। आए दिन इस में हैवी और ओवरलोड गाडिय़ां चलने के कारण रोड जर्जर होने लगी है। पहले भी बरसात के समय जर्जर होने की बात लेकर जब ग्रामीणों ने प्रबंधक को अवगत कराया था। उस संयम उन्होंने रोड में गड्ढों को गिट्टी से भरा। लेकिन लगातार ओवरलोड गाडिय़ां चलने के कारण वह गिट्टी भी पीसकर धूल बन गई है। अब आलम यह है कि जैसे यह गाडिय़ां गुजरती है तो धूल का अंबार लग जाता हैं।
दूसरी यहां तो सबसे बड़ी बात देखने में आई। वह है ओवरलोड गाडिय़ों की। इन गाडिय़ों की पासिंग 25 टन की है, लेकिन इसमें 40 टन तक लोड किया जाता है। ऐसी बात नहीं है कि यह बात किसी को मालूम नहीं है, लेकिन सभी अपनी आंख और कान नाक बंद किए हुए हैं। बुधवार शाम कुछ पत्रकारों द्वारा ऐसी ही 25 टन की पासिंग में 40 टन का माल लोड होना पाया गया। प्रशासन को सूचित किया गया था, लेकिन दो ढाई घंटे तक मौके पर कोई अधिकारी नहीं पहुंचा। कुछ पुलिसवाले भी आए थे और पत्रकारों से हाथ मिला कर चले गए। जब ढाई घंटे बाद अधिकारी पहुंचे तब तक खेल खत्म हो चुका था। गाड़ी बहुत आगे निकल चुकी थी। लेकिन उसके बावजूद भी अभी तक ओवरलोडिंग पर कोई भी एक्शन नहीं लिया गया है। कम से कम चेकिंग ही कर लेते साहब..! ऐसा नहीं कि मामला प्रशासन के संज्ञान में नहीं है। संज्ञान में है इसकी सूचना अधिकारियों को पत्रकारों ने स्वयं दी है। आज गुरुवार सुबह 10 बजे अभी भी हेवी लोड गाडिय़ां चितवाही रेलवे ब्रिज के पास गिट्टी खाली कर रही है। वहां अभी 50 से 70 है लोड गाडिय़ां की कतार लगी है। अगर एक दिन भी इस जगह पर जाकर चेकिंग की जाए तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *