अनुसूचित जनजातियों हेतु ‘जागरूकता कार्यक्रम‘ एवं कैम्प 23 मार्च को

अनुसूचित जनजातियों हेतु ‘जागरूकता कार्यक्रम‘ एवं कैम्प 23 मार्च को

कोण्डागांव। राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग नई दिल्ली ने मुख्यालय सहित आयोग के सभी 06 क्षेत्रीय कार्यालय को अनुसूचित जनजाति हेतु संविधान के अनुच्छेद 338 ‘क‘ के तहत् अनुसूचित जनजातियों को प्राप्त संरक्षणों के अन्वेषण एवं परीविक्षण हेतु गठित आयोग के संबंध में प्रचार-प्रसार हेतु जागरूकता कार्यक्रम एवं कैम्प अनुसूचित क्षेत्रों में लगवाने का निश्चय किया है। इसके लिए इच्छुक व्यक्ति राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग (छत्तीसगढ़ के लिए) रायपुर को अपनी समस्याओं एवं शिकायतों के संबंध में आयोग के मुख्यालय नई दिल्ली स्थित अध्यक्ष, सदस्य, सचिव एवं क्षेत्रीय कार्यालय प्रभारी के नाम से आवेदन कर सकते हैं। इस संबंध में कार्यालय के प्रभारी एवं अनुसंधान अधिकारी पीके दास द्वारा 23 मार्च को कोण्डागांव जिले के फरसगांव एवं आस-पास के ग्रामों में जाकर कैम्प लगाया जाएगा। इन कैम्पों के माध्यम से अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों को राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग एवं अपनी समस्याओं तथा शिकायतों को आयोग के अधिकारी के समक्ष रखने हेतु जानकारी प्रदान की जावेगी। इसके अतिरिक्त इच्छुक व्यक्ति डाक के माध्यम राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के क्षेत्रिय कार्यालय ईसी कॉलोनी प्लॉट नं 3/16 प्रथम तल जिला न्यायालय के पीछे रायपुर में आवेदन कर सकेंगे साथ ही ई-मेल द्वारा शिकायत हेतु तव.तंपचनत/दबेजण्दपबण्पद पर मेल के द्वारा भी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।