एक करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी, पति-पत्नी गिरफ्तार, इंश्योरेंस कंपनी के प्लान को बेस बनाकर वारदात को देते थे अंजाम

एक करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी, पति-पत्नी गिरफ्तार, इंश्योरेंस कंपनी के प्लान को बेस बनाकर वारदात को देते थे अंजाम

आरोपी पति-पत्नी को दिल्ली से किया गया गिरफ्तार, 1 करोड़ 22 लाख रुपए की ठगी को दिया है अंजाम

इंश्योरेंस ब्रोकर कंपनी में आरोपी मनीषा शर्मा करती थी काम

एक करोड़ से ज्यादा की ठगी करने वाले दम्पत्ति को दुर्ग पुलिस ने गिरफ्तार कर आरोपियों से सीम, पासबुक सहित एटीएम और अन्य साक्ष्य को जब्त किया है। मिली जानकारी के अनुसार दुर्ग पुलिस ने एक करोड़ 22 लाख की ठगी करने वाले पति-पत्नी को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि साल 2012 में सीएस इनोवेशन इंश्योरेंस ब्रोकर कंपनी में आरोपियों मनीषा शर्मा काम करती थी. और कई लाइफ इंश्योरेंस कंपनियों का इंश्योरेंस प्लान की जानकारी थी. इसी दौरान 2013 में भिलाई के रहने वाले दुलार सिंह से आरोपियों ने मोबाइल से संपर्क किया और विभिन्न कंपनियों का प्लान बताकर उनसे 2014 से 2021 तक एक करोड़ 22 लाख रुपए की ठगी की है. पुलिस ने आरोपियों का मोबाइल फोन, कई कंपनियों का सिम कार्ड, कई बैंकों का पासबुक और कई एटीएम बरामद किए हैं।

पुलिस ने जांच के दौरान प्रार्थी द्वारा बताए गए बैंक खातों की जानकारी ली. जिसमें एक करोड़ 22 लाख का ट्रांजैक्शन का पता चला. उसके बाद पुलिस ने धोखाधड़ी करने वाले आरोपी मनीषा शर्मा की खोजबीन में जुट गई. पुलिस लगातार मनीषा शर्मा की खोजबीन में जुटी थी. कि पुलिस को सूचना मिली कि मनीषा दिल्ली में मौजूद है और दिल्ली में ही बैठकर मोबाइल फोन के जरिए लोगों को अपने जाल में फंसाता है. जिसके बाद दुर्ग पुलिस ने एक टीम गठित कर दिल्ली रवाना हुई और दिल्ली के उत्तम नगर से दोनों आरोपी पति-पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पति पर आरोप है कि इस धोखाधड़ी वह अपनी पत्नी का साथ देता था। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्यवाही शुरू कर दी है।