ईई, एसडीओ एवं सब-इंजीनियर के वेतन रोकने के निर्देश...निविदा प्रक्रिया में अनियमितता की जांच के लिए कमेटी गठित

ईई, एसडीओ एवं सब-इंजीनियर के वेतन रोकने के निर्देश...निविदा प्रक्रिया में अनियमितता की जांच के लिए कमेटी गठित

कलेक्टर कुंदन कुमार ने संभागीय कार्यालय लोक निर्माण विभाग रामानुजगंज का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान बजट एवं जमा मद में सम्मिलित प्रगतिरत कार्यों, बजट में सम्मिलित भवन निर्माण कार्यं, ए.आर. मद में सम्मिलित कार्य, छ.ग. रोड इन्फ्रास्ट्रक्चर एवं डेव्हलपमेंट कॉर्पाेरेशन लिमिटेड योजना के अंतर्गत स्वीकृत कार्यों की प्रगति तथा विभाग के अंतर्गत चल रहे मरम्मत कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने लम्बे समय से लंबित कार्यों को पूर्ण करने तथा दस्तावेजों के संधा कलेक्टर कुंदन कुमार ने संभागीय कार्यालय लोक निर्माण विभाग रामानुजगंज का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान रण कार्य में अनियमितता पाये जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए, कार्यों में सुधार लाने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
कलेक्टर ने लंबे समय से स्वीकृत कार्यों स्कूल भवन, सड़क निर्माण, प्रशिक्षण भवन, आईटीआई भवन सहित अन्य निर्माण कार्यों से संबंधित दस्तावेजों का निरीक्षण किया। कलेक्टर कुमार द्वारा निविदा प्रक्रिया से संबंधित दस्तावेजों का सूक्ष्म निरीक्षण करते हुए निविदा प्रक्रिया से संबंधित अधिकारी के हस्ताक्षर नहीं पाए जाने तथा किसी भी कार्य के प्रतिवेदन में फोटोग्राफ्स संलग्न नहीं होने पर सहायक ग्रेड 3 धनंजय दूबे को संभागीय कार्यालय रामानुजगंज से उप संभाग कार्यालय कुसमी संलग्न किया गया है। कलेक्टर ने निविदा प्रक्रिया में अनियमितता की जांच हेतु कार्यपालन अभियंता जल संसाधन विभाग बलरामपुर श्री पांडेय एवं जिला कोषालय अधिकारी संतोष सिंह को जांच अधिकारी नियुक्त करते हुए यथाशीघ्र जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। निरीक्षण के दौरान विगत पांच वर्षों से लंबित कार्याे की समीक्षा करते हुए कलेक्टर कुन्दन कुमार ने कार्यों के अपूर्ण पाए जाने पर कार्यपालन अभियंता एन.एक्का सहित सर्व अनुविभागीय अधिकारी एवं उप अभियंताओं के वेतन रोकने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान कार्यालय की साफ सफाई एवं नास्तियां सही संधारित नही मिलने पर संबंधित लिपिक को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए, कलेक्टर ने सभी शासकीय भवनों को जोड़ने हेतु सड़क निर्माण के कार्यों को वर्षा ऋतु से पूर्व 30 जून तक पूर्ण करने कार्यपालन अभियंता को निर्देश दिए।
कलेक्टर ने विभाग प्रमुख सहित सभी उप अभियंताओं को निर्माणाधीन कार्यों की नियमित प्रगति तथा निरीक्षण कर कार्य स्थल के फोटोग्राफ्स विभागीय व्हाटसएप गु्रप में भेजने को कहा तथा उन्होंने कहा कि जिस विभाग के लिए भवन का निर्माण हो रहा है, उस विभाग को हैण्डओवर करने से पहले विभाग का संतुष्टि प्रमाण पत्र लेना सुनिश्चित करें।