*कलेक्टर ने ली बीईओ, बीआरसी एवं संकुल समन्वयकों की बैठक, शत-प्रतिशत जाति प्रमाण पत्र बनाने के निर्देश*

*कलेक्टर के निर्देश पर सीईओ जिला पंचायत ने अधूरे, जर्जर, भवनविहीन, पेयजल विहीन स्कूलों की ली जानकारी*

*2 अक्टूबर महात्मागांधी जयंती पर स्कूलों में श्रमदान दिवस आयोजित करने के निर्देश*

भगवान दास @ कोरिया 27 सितम्बर 2021/ कलेक्टर श्री श्याम धावड़े की अध्यक्षता में सभी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक एवं संकुल शैक्षिक समन्वयकों की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने कड़े शब्दों में कहा कि स्कूलों, कन्या आश्रमों और छात्रावासों के परिसर में किसी तरह की अनावश्यक गतिविधियों, दुर्व्यवहार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। अधिकारियों या अधीनस्थ स्टाफ की ऐसी शिकायत मिलने पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने के संबंध में भी जानकारी ली। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी, जिला मिशन समन्वयक एवं सहायक आयुक्त को सभी स्कूलों, आश्रमों और छात्रावासों में लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए।

बैठक में राजीव गांधी शिक्षा मिशन के अंतर्गत निर्माण कार्यों की समीक्षा की गई। कलेक्टर के मार्गदर्शन में सीईओ जिला पंचायत श्री कुणाल दुदावत ने समीक्षा करते हुए अधूरे निर्माण कार्य, जर्जर एवं भवन विहीन, पेयजल विहीन स्कूलों तथा कोविड टीकाकरण के लक्ष्य प्राप्ति के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला मिशन समन्वयक से जानकारी ली। स्कूलों की जानकारी सूचीबध्द कर आवश्यक सुविधाएं एवं अधोसंरचना निर्माण किया जायेगा।

कलेक्टर श्री धावड़े ने बैठक में उपस्थित सभी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक एवं संकुल शैक्षिक समन्वयकों को निर्देशित करते हुए कहा कि कोरिया जिला अधिसूचित क्षेत्र है। शासन की योजनाओं का लाभ लोगों तक पहुँचाना हमारी जिम्मेदारी है और हमारा कर्तव्य भी है। अपना बेहतर परफॉर्मेंस दें। उन्होंने 02 अक्टूबर को महात्मा गांधी जयंती के अवसर पर स्कूलों, आश्रमों, छात्रावासों में श्रमदान दिवस आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्थानीय पंचायत के जनप्रतिनिधियों एवं पालकों को भी श्रमदान में शामिल करें।

जाति प्रमाण पत्र के संबंध में निर्देशित करते हुए उन्होंने कहा कि जिले में कोई भी जाति प्रमाण पत्र से वंचित ना हो। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा जाति प्रमाण पत्र के नियमों में सरलीकरण किया गया है। प्रमाण पत्र ना बन पाने की शिकायत ना मिले, और शत प्रतिशत प्रमाण पत्र जारी हों, यह अपने स्तर पर सुनिश्चित करें। इसके साथ ही उन्होंने स्कूलों में मध्यान्ह भोजन मेनू के अनुसार बनने एवं गुणवत्तापूर्ण होने का ध्यान रखने भी संकुल समन्वयकों को निर्देशित किया। स्कूल के छात्र-छात्राएं किसी भी निजी कार्यक्रम के सांस्कृतिक गतिविधियों में हिस्सा ना बनें, इसकी भी मॉनिटरिंग के निर्देश कलेक्टर ने बैठक में दिए। जानकारी मिलने पर कलेक्टर ने कार्यवाही की भी बात कही। बैठक में सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here