धान फसल के बदले खेतो में वृक्षा रोपण करने वाले किसानों के खेतों का किया जाएगा भ्रमण

धान फसल के बदले खेतो में वृक्षा रोपण करने वाले किसानों के खेतों का किया जाएगा भ्रमण

कलेक्टर ने ली साप्ताहित समय सीमा की बैठक

मुंगेली 26 जुलाई 2021// कलेक्टर श्री अजीत वसंत ने आज जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभा कक्ष में साप्ताहिक समय सीमा की बैठक ली। बैठक में उन्होने समय सीमा के लंबित प्रकरणों के संबंध में अधिकारियों से वन-टू-वन जानकारी प्राप्त की और निराकरण के संबंध में संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिये। बैठक में उन्होने मानसून के दौरान विगत दिनों जिले में हुई वर्षा और नदी नालों में जल भराव की स्थिति तथा वर्षा से हुई क्षति के बारे में जानकारी प्राप्त की और संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिये। इसी तरह उन्होने खरीफ फसल हेतु किसानों के लिए यूरिया खाद की उपलब्धता तथा राज्य शासन की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना के तहत वर्मी कम्पोस्ट के वितरण के संबंध में जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिये। बैठक में उन्होने कहा कि आगामी खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में किसाने से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की जाएगी। इस हेतु उन्होने लक्ष्य के अनुरूप पीडीएस के बारदाने को एकत्रित एवं भण्डारित करने के निर्देश दिये। बैठक में कोविड-19 टीकाकरण की प्रगति के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होने कहा कि कोविड-19 के संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर जरूरी आवश्यकता के अनुसार छोटे-छोटे चिकित्सा उपकरणों और साम्रागी क्रय करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये। उन्होने क्रय की गई साम्रगियों का जाॅच गठित जाॅच दल से कराने के भी निर्देश दिये। बैठक में उन्होने मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना की समीक्षा की और उन्होने मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना के तहत फर्नीचर आदि क्रय करने के भी निर्देश दिये। बैठक में कलेक्टर श्री वसंत मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना की प्रगति की समीक्षा की। उन्होने कहा कि इस योजना के तहत जिन किसानों ने खरीफ वर्ष 2020 में धान की फसल ली है। यदि वे धान की फसल के बदले अपने खेतो में वृक्षा रोपण करते है तो उन्हे आगामी तीन वर्षो तक प्रति वर्ष 10 हजार रूपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस संबंध में उन्होने चिन्हाकित किसानों के बारे में जानकारी प्राप्त की और उन्होने किसानों के खेतों का भ्रमण करने की बात कहीं। बैठक में उन्होने राजस्व विभाग के लंबित प्रकरणों के भी जानकारी प्राप्त की और लंबित राजस्व प्रकरणों को निराकृत करने के निर्देश दिये। इसी तरह उन्होने वर्तमान एवं भूतपूर्व पंचायत पदाधिकारियों से लंबित वसूली के बारे में जानकारी प्राप्त की और उन्होने अभियान चलाकर वसूली करने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होने स्कूली बच्चों के लिए जारी जाति प्रमाण पत्र की प्रगति के बारे में जानकारी प्राप्त की और संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिये। इस अवसर पर जिले के पुलिस अधीक्षक श्री डी.आर अंाचला, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रोहित व्यास, वनमण्डाधिकारी श्री रामअवतार दुबे, अपर कलेक्टर श्री राजेश नशीने, संयुक्त कलेक्टर श्री तीर्थराज अग्रवाल, सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व और विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।