हत्या के मामले में आरोपी बनाए जाने पर भाजयुमो के दोनों महामंत्री को पार्टी ने किया पदमुक्त

After being made accused in the murder case the party relieved both the General Secretary of BJYM

हत्या के मामले में आरोपी बनाए जाने पर भाजयुमो के दोनों महामंत्री को पार्टी ने किया पदमुक्त

(After being made accused in the murder case, the party relieved both the General Secretary of BJYM)

भाजयुमो के जिला महामंत्री लोकेश पांडेय और प्रवीण बिश्वाल के खिलाफ संगठन ने की कार्रवाई, लोकेश पांडेय के खिलाफ मर्डर और प्रवीण बिश्वाल के खिलाफ हॉफ मर्डर का है आरोप, आरोप है कि प्रवीण बिश्वाल ने तीन महीने पहले पुलिस जवान से की थी मारपीट अभी कुछ दिन पहले हुई हत्या के मामले में महामंत्री लोकेश पांडेय पर हत्या का मामला दर्ज हुआ है।

भिलाई भाजयुमो ने अपने दोनों महामंत्री को हटा दिया है। बताया जा रहा है कि मर्डर के आरोप में लोकेश पांडेय के खिलाफ मामला पंजीबद्ध हुआ तो संगठन ने कार्रवाई करने का मन बनाया और दोनों की छुट्‌टी कर दी। (After being made accused in the murder case, the party relieved both the General Secretary of BJYM) इसे भाजयुमो संगठन में संयोग कहें या दुर्भाग्य, दो महामंत्री बनाए दोनों पर अपराधिक प्रकरण दर्ज हुए। दूसरे महामंत्री प्रवीण बिश्वाल पर अपराधिक मामला आज नहीं, महीनों पहले दर्ज हुए हैं। लेकिन संगठन ने अब जाकर दोनों को पदमुक्त करते हुए सारे दायित्व से हटा दिया है। प्रवीण बिश्वाल के खिलाफ पिछले दिनों क्लब में पुलिस जवान के साथ मारपीट करने का आरोप लगा था। (After being made accused in the murder case, the party relieved both the General Secretary of BJYM) सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया था। भाजपा संगठन ने प्रवीण बिश्वाल को निकाय चुनाव में सेक्टर-4 से प्रत्याशी भी बनाया था। चुनाव के बाद जुनवानी स्थित मॉल के क्लब में मारपीट हुई थी।(After being made accused in the murder case, the party relieved both the General Secretary of BJYM)  पुलिस कर्मी की पीठ में चाकू से हमला किया गया था। इसमें प्रवीण बिश्वाल का नाम आया था। वहीं दो दिन पहले रंजीत सिंह हत्याकांड में दूसरे महामंत्री लोकेश पांडेय का नाम आया है। इसलिए दोनों के खिलाफ भाजयुमो संगठन की ओर से कार्रवाई की गई है। वहीं शहर के हाईप्रोफाइल मर्डर केस में दुर्ग पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। रंजीत सिंह की हत्या करने के आरोप में पुलिस ने अभी पांच आरोपियों को पकड़ा है। इनसे पूछताछ की जा रही है। दो आरोपी अब भी फरार है। इनमें भाजयुमो के जिला महामंत्री लोकेश पांडेय प्रमुख बताया जा रहा है, जिसका पता नहीं चल पा रहा है। (After being made accused in the murder case, the party relieved both the General Secretary of BJYM)