इलेक्ट्रिक कॉन्ट्रैक्टर के घर से सोने, हीरे - मोती के आभूषण सहित नगदी रकम की चोरी मामले में कोतवाली पुलिस को मिली बड़ी सफलता, चोरी की गई संपूर्ण आभूषण कीमती लगभग ₹1000000 को आरोपिया से किया गया बरामद

Kotwali police got a big success in the theft of cash including gold diamond-pearl jewelery from the house of the electric contractor the entire stolen jewelery valuable about ₹ 1000000 was recovered from the accused

इलेक्ट्रिक कॉन्ट्रैक्टर के घर से सोने, हीरे - मोती  के आभूषण सहित नगदी रकम की चोरी मामले में कोतवाली पुलिस को मिली बड़ी सफलता, चोरी की गई संपूर्ण आभूषण कीमती लगभग ₹1000000 को आरोपिया से किया गया बरामद

(Kotwali police got a big success in the theft of cash, including gold, diamond-pearl jewelery from the house of the electric contractor, the entire stolen jewelery valuable about ₹ 1000000 was recovered from the accused)

चोरी के अरोपिया को उत्तर प्रदेश से पकड़ा गया
मामले में 100 से भी अधिक लोगों से किया गया पूछताछ
अपराध क्रमांक 656/2022 धारा 380 भा. द. वि.

19 जुलाई 2022 को प्रार्थी संजय बगड़िया थाना उपस्थित आकर लिखित रिपोर्ट दर्ज कराए कि 17 मई 2022 से 28 जून 2022 के इनके घर के अलमारी में रखे सोने हीरे और मोती के गहने सहित नगदी रकम को कोई अज्ञात चोर चोरी कर ले गया है कि रिपोर्ट पर थाना कोतवाली कोरबा में अपराध पंजीबद्ध किया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए मामले के बारे में पुलिस अधीक्षक  संतोष सिंह को अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह द्वारा अज्ञात चोर को जल्द पकड़ने के निर्देश दिए गए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा व नगर पुलिस अधीक्षक योगेश साहू से मार्गदर्शन प्राप्त कर नगर निरीक्षक राजीव श्रीवास्तव के नेतृत्व में प्रकरण के बारे में गंभीरता से विवेचना किया गया। प्रकरण के संजय बगड़िया व उसकी पत्नी श्रीमती सुनीता बगड़िया से घटना के बारे में बारीकी से पूछताछ किया गया। पूछताछ पर पिछले 2 महीने से घर में आने जाने वालों के बारे में जानकारी ली गई, जिन्होंने पूछताछ में बताए कि इन 2 महीनों के दौरान घर में छोटे मोटे कार्यक्रम हुए थे जिसमें बाहरी व्यक्तियों का आना जाना लगा था तथा  घर में मेंटेनेंस का भी काम चला था जिसमें कई मजदूरों, प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन का भी आना जाना हुआ था जिससे विवेचना एवम् पूछताछ का दायरा बढ़ गया। तथा चोरी की घटना में अलमारी एवं दरवाजा का नहीं टूटना  घर के किसी जानकार द्वारा ही घटना को अंजाम देना प्रतीत हो रहा था। प्रार्थी द्वारा पूछताछ पर यह बताया गया कि इसके यहां दो नौकरानी काम करती थी जिसमे से एक नौकरानी जांजगीर चांपा जिले में रहती थी  जिसे तस्दीक हेतु एक पुलिस टीम जांजगीर चांपा भेजा गया था तथा दूसरी नौकरानी  आरती साहू जो उत्तर प्रदेश में रहती है वह काम छोड़कर उत्तर प्रदेश चली गई है, इस पर पुलिस को संदेह हुआ की घटना को आरती साहू द्वारा अंजाम दिया गया होगा। वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन व निर्देश प्राप्त कर आरोपी पता तलाश हेतु पुलिस टीम गठित कर उत्तर प्रदेश भेजा गया। पुलिस टीम द्वारा उत्तर प्रदेश जाकर  संदेही आरती  के बारे में गोपनीय रूप से आसपास के लोंगो से पूछताछ किया गया , पूछताछ करने पर यह पता चला कि संदेही महिला कुछ जवेलरी शॉप में गहने बेचने के लिए संपर्क की थी पर जवेलरी के काग़ज़ात न होने पर बेंच नही पाई । प्रारम्भिक पूछताछ में  चोरी नहीं करना बताई परंतु पुलिस टीम द्वारा हीकमत अमली से पूछताछ करने पर आरती साहू द्वारा चोरी करना स्वीकार किया गया तथा चोरी के कुछ आभूषण  बरामद किया गया तथा शेष गहनों को कोरबा में ही इनके सामान के साथ लक्ष्मण बन तालाब में किराए के मकान में छुपाना बताई। इसके बाद आरोपिया आरती साहू को थाना कोतवाली कोरबा लाकर बारीकी से  पूछताछ किया गया तथा आरती साहू के निशादेही पर चोरी किए गए संपूर्ण आभूषण को बरामद किया गया। आरोपियों के विरुद्ध पर्याप्त अपराध सबूत पाए जाने से विधिवत गिरफ्तार कर आज दिनांक को माननीय न्यायालय पेश किया गया।