अब देश में Electric Bike और Scooter की कीमत होगी आधी से भी कम, नितिन गडकरी ने की बड़ी घोषणा..

Now the price of Electric Bike and Scooter in the country will be less than half Nitin Gadkari made a big announcement

अब देश में Electric Bike और Scooter की कीमत होगी आधी से भी कम, नितिन गडकरी ने की बड़ी घोषणा..

(Now the price of Electric Bike and Scooter in the country will be less than half, Nitin Gadkari made a big announcement )

 अगर आप भी कार और खासकर इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने की योजना बना रहे हैं तो यह खबर आपके काम आ सकती है। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि अगले एक साल में इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत पेट्रोल वाहनों के बराबर होगी।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि अगले एक साल के भीतर इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत पेट्रोल कारों की कीमत के बराबर हो जाएगी। कार और बाइक सवारों के लिए यह खबर बेहद सुकून देने वाली है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि प्रौद्योगिकी और हरित ईंधन में तेजी से प्रगति से इलेक्ट्रिक ऑटोमोबाइल की लागत में कमी आएगी। यानी इससे आम लोगों को फायदा होगा। अगले दो वर्षों में, इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमत पेट्रोल से चलने वाली कारों के समान होगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह आने वाले समय में क्रांति ला सकता है।

प्रदूषण का स्तर होगा कम : इसके अलावा, नितिन गडकरी ने लोकसभा में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, 2022-23 के लिए अनुदान की मांग पर जवाब देते हुए बताया था कि प्रभावी स्वदेशी ईंधन की ओर बढ़ने की जरूरत है, बिजली ईंधन जल्द ही एक वास्तविकता बन जाएगा। इससे प्रदूषण का स्तर कम होगा। भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में प्रदूषण एक बड़ी चुनौती के रूप में सामना कर रहा है।

केंद्रीय मंत्री ने किया अनुरोध : केंद्रीय मंत्री गडकरी ने भी सांसदों से हाइड्रोजन तकनीक अपनाने का आग्रह किया। उन्होंने सांसदों से अपने-अपने क्षेत्रों में सीवेज के पानी को हरित हाइड्रोजन में बदलने की पहल करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि हाइड्रोजन जल्द ही सबसे सस्ता ईंधन विकल्प होगा। नितिन गडकरी ने कहा कि लिथियम आयन बैटरी की कीमत तेजी से गिर रही है। हम जिंक-आयन, एल्युमिनियम-आयन, सोडियम-आयन बैटरी विकसित कर रहे हैं। अधिकतम दो वर्षों में इलेक्ट्रिक स्कूटर, कार और ऑटो रिक्शा की कीमत पेट्रोल से चलने वाले स्कूटर, कार और ऑटो रिक्शा के बराबर हो जाएगी।

जानिए लागत में कितना अंतर आएगा : केंद्रीय मंत्री के मुताबिक, ‘इसका फायदा यह होगा कि अगर आज आप पेट्रोल पर 100 रुपये खर्च कर रहे हैं तो इलेक्ट्रिक वाहन चलाने की लागत घटकर 10 रुपये रह जाएगी. कुछ दिन पहले नितिन गडकरी ने ग्रीन हाइड्रोजन फ्यूल कार लॉन्च की थी। दरअसल नितिन गडकरी लगातार इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं। ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली कारों की कीमत 1 रुपये प्रति किमी से कम होगी, जबकि पेट्रोल कारों की कीमत 5-7 रुपये प्रति किमी होगी। वहीं अब कंपनी निर्माता इलेक्ट्रिक वाहनों पर भी काम कर रही है। Toyota Kirloskar Motor की एफसीईवी टोयोटा मिराई कार पायलट प्रोजेक्ट में शामिल है।