ऑर्गेनिक केमेस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट बना रहा था ड्रग्स, 1400 करोड़ का मादक पदार्थ जब्त, पुलिस भी रह गई हैरान

Post graduate in organic chemistry was making drugs seized drugs worth 1400 crores police were also surprised

ऑर्गेनिक केमेस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट बना रहा था ड्रग्स, 1400 करोड़ का मादक पदार्थ जब्त, पुलिस भी रह गई हैरान

(Post graduate in organic chemistry was making drugs, seized drugs worth 1400 crores, police were also surprised)

क्राइम ब्रांच ने जब छापेमारी की तो उनको प्रतिबंधित दवा ‘मेफेड्रोन’ बनाए जाने की जानकारी मिली. जो व्यक्ति इस ड्रग को बना रहा था वो ऑर्गेनिक केमेस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट था.

मुंबई पुलिस ने पालघर जिले के नालासोपारा में एक दवा निर्माण इकाई पर छापेमारी के बाद 1400 करोड़ रुपये कीमत का 700 किलोग्राम से ज्यादा ‘मेफेड्रोन’ जब्त किया. पुलिस ने इस मामले में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. एक अधिकारी ने गुरुवार को ये जानकारी दी है.

पुलिस ने बताया कि मुंबई क्राइम ब्रांच के मादक पदार्थ रोधी प्रकोष्ठ (एएनसी) ने यहां पर छापेमारी की. पुलिस अधिकारियों के अनुसार उनको यहां पर ये ड्रग होने की गुप्त सूचना मिली थी. एएनसी के एक दल ने जब यहां पर छापेमारी की तो उस दौरान उनको प्रतिबंधित दवा ‘मेफेड्रोन’ बनाए जाने की जानकारी मिली. 

केमेस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट बना रहा था प्रतिबंधित ड्रग मेफेड्रोन 

पुलिस ने बताया कि जो व्यक्ति इस ड्रग को बना रहा था वो ऑर्गेनिक केमेस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट है और अपने ज्ञान का इस्तेमाल ड्रग्स बनाने में कर रहा था. पुलिस अधिकारियों ने कहा कि प्रतिबंधित सामान के व्यापार में शामिल होने के कारण मुंबई से चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया जबकि एक अन्य व्यक्ति को नालासोपारा से गिरफ्तार किया गया है.
पुलिस के मुताबिक बीते दिनों में पुलिस को ड्रग्स की बरामदगी में मिली ये सबसे बड़ी सफलता है. ‘मेफेड्रोन’ को 'म्याऊ म्याऊ' या एमडी भी कहा जाता है. यह राष्ट्रीय स्वापक औषधि और मन: प्रभावी पदार्थ के तहत प्रतिबंधित है.