सपाद लक्षेश्वर धाम-सलधा में मनाया गया तुलसी जयंती --    

सपाद लक्षेश्वर धाम-सलधा में मनाया गया तुलसी जयंती --    

    

बेमेतरा : सपाद लक्षेश्वर धाम-सलधा के शिवगंगा आश्रम में ब्रम्हचारी ज्योतिर्मयानंदः के नेतृत्व में श्री तुलसी दास जी की 500वीं जयंती समारोह आयोजित किया गया. जिसमें बेमेतरा जिला के मानस मण्डलीयों को आमंत्रित किया गया था. तुलसी जयंती समारोह में मुख्य रूप से शामिल होनें वाली मानस मण्डलीयों ने तुलसीदास जी की महिमा का गुणगान किया गया. श्री राम चरित मानस का गान कर उपस्थित श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में शामिल होनें वाली मण्डलीयों में मुख्य रूप सेश्री राम मानस मंडली मोहतरा,नवधा भक्ति प्रेम संदेश मानस परिवार बोरतरा,जय मां सरस्वती मानस मंडली हाटरांका, जय बजरंग मानस परिवार बीजागोंड,जय मां शीतला के उपकार बेलतरा, ने अपनी प्रस्तुति से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम के आयोजक सपा लक्ष्य स्वर धाम के ब्रह्मचारी श्री ज्योतिर्मयानंद जी ने कहा कि तुलसीदास जी ने जिन विपरीत परिस्थितियों में मानस की रचना की थी. और उसे सुरक्षित कर पाए वह सामान्य रूप से संभव नहीं थी। राम की स्थापना के साथ उन्होंने नारी जानकी को पहले स्थापित किया तुलसीदास जी ने बहुत सी रचनाएं की लेकिन मानस में अवधि बोली भाषा के माध्यम से जो लोक चेतना और उनकी व्यापकता समाहित है उसी कारण मानस की भारतीय समाज में स्थापना आज भी बनी हुई है. गोस्वामी तुलसीदास जी के 500 वीं जन्म उत्सव के कार्यक्रम में मुख्य रूप से लेखमणि पांडे ,डॉ रघुनंदन तिवारी , पुरुषोत्तम पटेल, महेंद्र चौहान, अंगेश्वर चौबे, संदीप पाण्डेय, खेलने साहू ,घनश्याम ठाकुर,राजेन्द्र कुमार तिवारी,बद्री साहू,बलराम साहू, मुन्ना साहू, उपस्थित रहे.