रायपुर। देश में महिलाओं के साथ यौन अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे। एक जहां हाथरस में युवती के साथ हुए गैंगरेप और हत्या के मामले में बवाल मचा हुआ है। वहीं छत्तीसगढ़ के बस्तर अंचल की युवती के साथ तीन लोगों ने उसका अगवा कर उसके साथ गैंगरेप जैसी शर्मनाक घटना को अंजाम दिया है। मामले में स्थानीय पुलिस ने रेप करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर केशकाल पुलिस के हवाले कर दिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक मर्दापाल निवासी 34 वर्षीय युवती बनियागांव से केशकाल जाने जगदलपुर के रास्ते पैदल मर्दापाल जा रही थी। तभी उन्होंने किरंदुल से गिट्टी लोड कर रायपुर आ रहे ट्रक चालक और उसके साथियों ने युवती को लिफ्ट देने के बहाने ट्रक पर बैठा लिया और उससे पूछा कि तुम्हें कहा जाना है। युवती ने ट्रक ड्राइवर को केशकाल में उतार देने के लिए कहा। केशकाल पहुंचने के बाद ड्राइवर ने जब ट्रक नहीं रोका, तब युवती को अपने साथ अनहोनी की आशंका हुई और उन्होंने ट्रक ड्रायवर से गाड़ी रोकने को कहा लेकिन ड्रायवर नहीं गाड़ी नहीं रोकी। इसके बाद युवती को डरा-धमका कर केशकाल घाटी में ले जाकर उसके साथ ट्रक ड्राइवर बसंत बघेल, संदीप गुप्ता तथा संजय दुर्गम ने बारी-बारी से अनाचार किया।

अनाचार होने के बाद युवती ट्रक ड्राइवर और उसके साथियों से हाथ जोड़कर उसे वहीं उतार देने के लिए गिड़गिड़ाती रही, पर आरोपियों ने युवती को ट्रक में जबरदस्ती बैठाकर रायपुर ले आए। साथ ही बदमाशों ने युवती से रास्ते में कई बार अनाचार किया। आरोपियों ने रायपुर पहुंचने के बाद सिलतरा में ट्रक से उतार दिया। स्थानीय लोगों को ट्रक से युवती को बदहाल हालत में उतरते देख कुछ शंका हुई। जिसके बाद लोगों ने युवती से जानकारी। युवती ने लोगों को अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। तब लोगों ने ट्रक ड्राइवर और उसके दो अन्य साथियों को पकड़कर धरसींवा पुलिस के पास ले गये। इसके बाद डॉयल 112 की मदद से युवती को थाने लाया गया, साथ ही युवती की शिकायत के आधार पर पुलिस ने शून्य में अपराध दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here