नई दिल्‍ली(ईएमएस)। कम होती करोना लहर तथा बढ़ते टीकाकरण अभियान के बीच सरकार ने टीका लेने के नियमों को और आसान बना दिया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोविन ऐप या वेबसाइट पर रजिस्‍ट्रेशन की अनिवार्यता को समाप्‍त कर दिया है। सरकार के नए नियम के मुताबिक कोई भी शख्स अपने नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर जाकर ऑन साइट रजिस्ट्रेशन करवा सकता है और वैक्सीन ले सकता है। बहुत से लोग अभी भी ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन नहीं करा पा रहे हैं। यही कारण है कि सरकार ने यह फैसला किया है।

पीआईबी के बयान में सरकार की ओर से जानकारी दी गई है क‍ि कोरोना वैक्‍सीन देश के हर कोने तक पहुंचाने के लिए हेल्थ वर्कर्स और आशा कार्यकर्ता ग्रामीण इलाके और शहरी स्लम्स इलाकों में जाएंगी और लोगों को ऑन-साइट रजिस्ट्रेशन के लिए जागरूक करेंगी। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से जानकारी देते हुए कहा गया है क‍ि 13 जून तक कोविन के जरिए किए गए 28.36 करोड़ रजिस्‍ट्रेशन में से 16.45 करोड़ (58 प्रतिशत) लाभार्थियों ने ऑन-साइट रजिस्‍ट्रेशन कराया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि मंगलवार को 18-44 साल के आयु वर्ग के 13,13,438 लोगों को टीके की पहली खुराक दी गई जबकि 54,375 लोगों को दूसरी खुराक लगाई गई। सरकार ने 21 जून से फिर से टीकाकरण अभ्यास की बागडोर संभालने का फैसला किया है। केंद्र ने आश्वासन दिया है कि इस महीने 12 करोड़ वैक्सीन खुराक उपलब्ध होंगे। कोविशील्ड निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने भी कहा है कि वह अपनी विनिर्माण क्षमता बढ़ा रहा है। इस महीने लगभग 10 करोड़ खुराक का उत्पादन और आपूर्ति करने में सक्षम होगा। भारत बायोटेक और रूस के स्पुतनिक-v वैक्सीन की दो करोड़ खुराक उपलब्ध कराई जाएंगी, जिनका आयात किया जा रहा है। ऐसे में महीने के अंत तक देश 12 करोड़ लोगों को और अधिक टीकाकरण करने में सक्षम होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here